covid-19 Hindi News

दिल्ली HC ने कहा- यह दूसरी लहर नहीं सुनामी है, कैसी है हमारी तैयारी

दिल्ली के महाराजा अग्रसेन अस्पताल उन अस्पतालों में शामिल है जहां पर कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन की भारी किल्लतों का सामना करना पड़ रहा है. ऑक्सीजन की कमी को दूर करने और तत्काल सप्लाई के लिए महाराजा अग्रसेन अस्पताल ने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका लगाई है.

हाई कोर्ट ने कहा कि यह दूसरी लहर नहीं है बल्कि यह सुनामी है और अभी भी नए मामलों में तेजी आ रही हैं. हम उम्मीद कर रहे हैं कि मई के मध्य में यह पीक पर पहुंच जाएगा. हम इसकी तैयारी कैसे कर रहे हैं?

वहीं केंद्र ने हाई कोर्ट से कहा कि आने वाले हफ्तों में नए मामलों में तेजी से वृद्धि हो सकती है. यह पैनिक करने की जरुरत नहीं है, लेकिन हमें सबसे बुरे के लिए तैयार रहना होगा.

इससे पहले महाराजा अग्रसेन अस्पताल ने दिल्ली HC से ऑक्सीजन की तत्काल आपूर्ति की मांग की है. अस्पताल का कहना है कि हम 306 रोगियों के साथ दो अस्पताल चला रहे हैं. कल रात ही हमारे यहां ऑक्सीजन लगभग खत्म हो चुकी थी. हमें दिल्ली के वकील का शुक्रिया अदा करना चाहिए, लेकिन हमारे पास आज दोपहर तक ऑक्सीजन खत्म हो जाएगी. इस वजह से हम मरीजों को डिस्चार्ज कर रहे हैं.

सुनवाई के दौरान दिल्ली हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार से इस संबंध में विस्तृत ब्योरा मांगा है. हाई कोर्ट ने यह भी कहा कि दिल्ली सरकार को अपने खुद का ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की जरुरत है. वहीं, कोर्ट ने ये भी कहा कि अगर कोई ऑक्सीजन की सप्लाई में रुकावट पैदा करेगा तो उसे बख्शा नहीं जाएगा.

हाई कोर्ट ने केंद्र से सख्त लहजे में कहा कि हम एक निश्चित तारीख चाहते हैं कि दिल्ली को 480 मीट्रिक टन ऑक्सीजन कब तक मिलना शुरू होगा. कोर्ट ने कहा कि कोई भी आपके इरादों पर संदेह नहीं कर रहा है, लेकिन फैक्ट यही है कि 480 मीट्रिक टन ऑक्सीजन दिल्ली तक नहीं पहुंच रही है. हम लोगों को इस तरह मरने नहीं दे सकते.

1 comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: