Hindi News

West Bengal Election : EC का बड़ा फैसला- शाम 7 बजे से सुबह 10 बजे तक नहीं कर पाएंगे चुनाव प्रचार

कोरोना महामारी के खतरनाक रूप लेने के बाद पश्चिम बंगाल में हो रहे विधानभा चुनाव और बड़ी-बड़ी रैलियों को खत्‍म करने की दिशा में कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया। हालांकि आयोग ने जरूर बाकी के चरणों में कोविड मानकों का पालन करने के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं। शुक्रवार को चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक दलों से इस बारे में मीटिंग कर राय मांगी थी।

आयोग ने अब शाम सात बजे से लेकर सुबह 10 बजे तक हर तरह के चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी है। इसके अलावा अब हर चरण में चुनाव प्रचार 48 की जगह 72 घंटे पहले बंद हो जाएगा।

मीटिंग में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने अंतिम के चरणों को एक ही चरण में समेटने की वकालत की। वहीं, बीजेपी ने इस प्रस्ताव का इस तर्क के साथ विरोध किया कि अगर ऐसा किया गया तो यह चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों के साथ न्याय नहीं होगा।

आयोग ने गुरुवार को ही अंतिम तीन चरणों को समेटकर एक चरण में वोटिंग कराने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था। इसके अलावा, रैलियों की पांबदी पर भी कोई आम राय नहीं बनी। लेकिन चुनाव आयोग ने इतना जरूर कहा कि अगर चुनावी रैलियों में कोविड मानकों का ख्याल नहीं रखा गया तो स्थानीय चुनाव अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

चुनाव आयोग के नए गाइडलाइंस
– शाम सात बजे से लेकर सुबह 10 बजे तक किसी तरह का चुनाव प्रचार बंद रहेगा
– जिन इलाकों में चुनाव होना है वहां प्रचार 48 घंटे की जगह 72 घंटे पहले बंद होगा
– सभी नेता और स्‍टार प्रचारक अपनी सभाओं को कोविड मानकों का पालन करेंगे और राजनीतिक दलों की ओर से कोई उल्‍लंघन हुआ तो उनके खिलाफ क्रिमिनल केस होगा।

Leave a Reply

%d bloggers like this: